11वें दिन भी अधिवक्ता रहे धरनारत, आमरण अनशन की चेतावनी

11वें दिन भी अधिवक्ता रहे धरनारत, आमरण अनशन की चेतावनी

न्यूज़ दर्पण

कासिमाबाद, गाजीपुर

कासिमाबाद तहसील अंतर्गत उप निबंधन कार्यालय की विभिन्न सूत्रीय मांगों को लेकर अधिवक्ता लगातार 11वें दिन भी अड़े रहे और अपनी मांगों को जायज़ ठहराने के लिए मीडिया के सामने अपनी बातें रखी और कहे कि यह अब आर पार की लड़ाई बनती जा रही है और हम पीछे नहीं हटेंगे। साथ ही चेताये की इसके बाद आमरण अनशन का ही रास्ता बचा है अधिवक्ताओं ने आरोप लगाया कि अधिकारी हीलाहवाली कर रहे हैं।
गुरुवार को आयोजित धरने में संबोधन के दौरान अधिवक्ताओं ने प्रशासन को चेतावनी दी कि यदि 14 सितंबर तक उनकी मांगों पर प्रशासन अमल नहीं करता है, तो वह आमरण अनशन पर बैठने के लिए बाध्य हो जाएंगे। सेंट्रल बार के पूर्व अध्यक्ष विनोद सिंह ने कहा कि हम प्रशासन से उप निबंधन कार्यालय तहसील परिसर के भीतर खुलवाने से एक कदम भी पीछे की बात पर समझौता करने के लिए तैयार नहीं है। मांगों को लेकर धरना-प्रदर्शन चल रहा है। हम लोगों ने 14 सितंबर का एक समय तय कर रखा है। इसके बाद हम लोग आमरण अनशन को लेकर विचार करेंगे। अधिवक्ताओं ने कहा कि जब तक प्रशासन हमारी मांगों को पूरा नहीं करता है, तब तक धरना-प्रदर्शन जारी रहेगा। उधर इस धरने में अब तक किसी भी प्रशासनिक अधिकारी द्वारा कोई आधिकारिक वार्ता नहीं हो पाई है इस संदर्भ में उपजिलाधिकारी कासिमाबाद ने कहा कि अभी इस धरने के संबंध में धरनारत अधिवक्ताओं से कोई आधिकारिक वार्ता नहीं हुई ।

इस दौरान वर्तमान तहसील बार अध्यक्ष संतोष कुमार, पूर्व तहसील बार अध्यक्ष संजय तिवारी, प्रेम सागर, योगेंद्र यादव, जयप्रकाश यादव, चंद्रशेखर पांडेय सहित बड़ी संख्या में अधिवक्ता मौजूद रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *