जहूराबाद-ओमप्रकाश राजभर का फूंका गया पुतला, म०सुहेलदेव के अपमान का आरोप

जहूराबाद-ओमप्रकाश राजभर का फूंका गया पुतला, म०सुहेलदेव के अपमान का आरोप

न्यूज़ दर्पण,कासिमाबाद

ओमप्रकाश के विरोध में नारेबाजी करते राजभर समाज के लोग


जहूराबाद विधायक ओमप्रकाश राजभर को उनके खुद के विधानसभा अंतर्गत कासिमाबाद व बाराचवर में राजभर समाज ने निशाने पर लिया है और उनका पुतला फूंक जबरदस्त विरोध दर्ज कराया है। खबर है कि चक्रवर्ती सम्राट महाराजा सुहलदेव राजभर के शौर्य वीरता पराक्रम की धरती बहराइच में सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर द्वारा सलार मसूद गाजी के वंशज असुद्दीन औवैसी से राजनीतिक गठबंधन करने तथा सलार मसूद गाजी की मजार पर चादर चढ़ाने की घटना से जहूराबाद में राजभर समाज मे खासी नाराज़गी देखी गयी और राजभर समाज में इसका काफी विरोध किया जा रहा है जिसकी कड़ी में कासिमाबाद में पूर्व मंत्री व जहूराबाद विधायक ओमप्रकाश राजभर का पुतला फूंका गया।

प्रदर्शनकारियों के हाथों में ओमप्रकाश राजभर के विरोध में लिखी तख्तियां भी थी जिस पर स्लोगन लिखे हुए थे। पूर्व मंत्री के विधानसभा क्षेत्र में उनके प्रति इतने विरोध को देखकर जहूराबाद की राजनीति गरमा गई है। इस दौरान लोगों ने कहा कि ओम प्रकाश राजभर ने करोड़ों हिन्दूओं के तथा महराज सुहलदेव के कलेजे में खंजर भोंकने का कार्य किया है, जिसको राजभर समाज कभी माफ नहीं करेगा और राजभर समाज अपना असली चेहरा व नेता अनिल राजभर को मानता है और 2022 में जहूराबाद की जनता ओमप्रकाश जैसे बहरूपिया व राजभर वोटों के सौदागर को उखाड़ फेंकेगी जिसका बिगुल बज चुका है। विरोध प्रदर्शन करने वालों में मुख्य रूप से हरिहर राजभर, विनय राजभर, संजय राजभर , बँटी राजभर, आशीष राजभर, मनीष राजभर, गुंजन राजभर, राजाराम राजभर, गोपाल राजभर, ब्रिजेश, चंदन, राजशेखर, आदित्य समेत दर्जनों की संख्या में राजभर समाज के लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *