उपमुख्यमंत्री का आगमन! कैबिनेट मंत्री ने लिया तैयारियों का जायज़ा

उपमुख्यमंत्री का आगमन! कैबिनेट मंत्री ने लिया तैयारियों का जायज़ा

तौहीद अब्बासी , न्यूज़ दर्पण,कासिमाबाद

उत्तर प्रदेश सरकार में उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा के शुक्रवार को हो रहे कासिमाबाद में आगमन को लेकर भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं में खासा उत्साह देखा जा रहा है ।उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने स्थानीय कासिमाबाद नेशनल इंटर कॉलेज के मैदान में शुक्रवार को होने वाले एकदिवसीय “महाराजा सुहेलदेव राजभर सम्मान समारोह” की पूर्व संध्या पर तैयारियों का जायजा लिया। मंत्री ने पंडाल हेलीपैड आदि स्थानों पर जाकर वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया एवं जिम्मेदार लोगों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस दौरान में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि माननीय योगी जी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश में दोबारा भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने जा रही है। सरकार द्वारा जहुराबाद विधानसभा के विकास संबंधी सवाल पूछने पर कैबिनेट मंत्री ने कहा कि जहुराबाद ही नहीं पूरे प्रदेश में अगले दो माह में सभी मार्ग गड्ढा मुक्त कर दिए जाएंगे और विशेषकर जहुरा बाद के लिए विभिन्न सूत्रीय मांगों को लेकर यहां के कार्यकर्ता उप मुख्यमंत्री से मिलेंगे और अपनी बात रखेंगे। मंत्री अनिल राजभर ने अपने धुर विरोधी और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व जहुराबाद से विधायक ओमप्रकाश राजभर पर निशाना साधते हुए कहा कि वह केवल राजनीति में मनोरंजन के साधन रह गए हैं और विदेशी आक्रांताओं के पूर्वजों से हाथ मिला कर उन्होंने महाराजा सुहेलदेव का जो अपमान किया है उसका बदला यहां की जनता आने वाले विधानसभा चुनाव में लेगी ।मंत्री ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का महाराजा सुहेलदेव के सम्मान को बढ़ाने तथा उनके इतिहास को पुनः आम जनमानस के समक्ष रखने के लिए आभार जताया । इस दौरान भाजपा जिला अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह, भाजपा जिला उपाध्यक्ष लालसा भारद्वाज, राजेश राजभर ,शिव प्रताप सिंह, अखिलेश राय धर्मेंद्र नाथ राय, मयंक राय ,विमलेश तिवारी संतोष गुप्ता, समेत दर्जनों की संख्या में भाजपा कार्यकर्ता मौजूद रहे

बड़ौरा स्थित पूर्वांचल कताई मिल के बारे में दिया गोल मोल जवाब

पत्रकार द्वारा प्रेस वार्ता के दौरान उठाए गए विभिन्न सवालों के जवाब तो मंत्री ने बेबाकी से दिए परंतु कासिमाबाद के बड़ौरा स्थित पूर्वांचल कताई मिल के दशकों से बंद पड़े और इस सरकार में भी उसकी सुध न लिए जाने के सवाल पर मंत्री झेंप गए ।उन्होंने कहा कि इस प्रदेश में जितनी भी मिले हैं वह चालू होंगी। गौरतलब है कि विगत 6 माह पूर्व कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने जहूराबाद विधानसभा को गोद लेने की घोषणा की थी उस समय भी स्थानीय पूर्वांचल कताई मिल को चालू कराने की मांग उठी थी परंतु अब तक कोई कवायद सरकार व मंत्री की तरफ से नहीं की जा सकती है जिसको लेकर उठे सवाल पर मंत्री थोड़ा असहज दिखे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *